आयुर्वेदिक महाविद्यालय की कार्यकारिणी समिति की बैठक सम्पन्न

 

मौजूदा वित्तीय वर्ष के लिए बजट का हुआ अनुमोदन 

ग्वालियर| आयुर्वेदिक महाविद्यालय के विद्यार्थियों को देश के प्रतिष्ठित आयुर्वेद चिकित्सा संस्थानों व औषधीय वनस्पतियों वाले क्षेत्रों का भ्रमण कराएँ, जिससे विद्यार्थियों का ज्ञानवर्धन हो और वे अपनी पढ़ाई में इस ज्ञान का उपयोग कर सकें। यह बात प्रभारी संभाग आयुक्त एवं कलेक्टर श्रीमती रुचिका चौहान ने शासकीय स्वशासी आयुर्वेदिक महाविद्यालय एवं चिकित्सालय की कार्यकारिणी समिति की बैठक में कही। उन्होंने कहा विद्यार्थियों के भ्रमण के लिए महाविद्यालय के बजट में प्रावधान करें। 
मंगलवार को आयुर्वेदिक महाविद्यालय के सभागार में आयोजित हुई बैठक में वित्तीय वर्ष 2024-25 के लिये आयुर्वेदिक महाविद्यालय एवं चिकित्सालय के बजट का अनुमोदन किया गया। बजट में 5 करोड़ 70 लाख 11 हजार से अधिक आय एवं 9 करोड़ 94 लाख के अनुमानित व्यय का प्रावधान किया गया है। मौजूदा वित्तीय वर्ष में महाविद्यालय को होने वाली आय के साथ पूर्व से उपलब्ध डिपोजिट और शासन से प्राप्त धन से व्यय की पूर्ति की जायेगी। कलेक्टर श्रीमती चौहान ने आयुर्वेदिक महाविद्यालय की नक्षत्र वाटिका की तर्ज पर ग्वालियर कलेक्ट्रेट में भी नक्षत्र वाटिका स्थापित करने के लिये महाविद्यालय प्रबंधन से कहा। साथ ही यह भी निर्देश दिए कि आयुर्वेदिक महाविद्यालय द्वारा आयुर्वेदिक चिकित्सा पद्धतियों व वनस्पतियों के बारे में प्रचार-प्रसार और लोगों को चिकित्सा स्वास्थ्य सुविधायें उपलब्ध कराने के लिये चयनित ग्वालियर जिले के गाँवों में सुव्यवस्थित ढंग से शिविर लगाए जाएँ। शिविर लगाने से पहले शिविर की तिथियों का व्यापक प्रचार-प्रसार करें, जिससे अधिकाधिक लोग इन शिविरों का लाभ उठा सकें। 
कार्यकारिणी समिति की बैठक में कलेक्टर श्रीमती चौहान ने महाविद्यालय के उद्यानों व नक्षत्र वाटिका के पौधों के रख-रखाव के लिए उद्यानिकी विभाग द्वारा प्रशिक्षित मालियों को काम पर लगाने के निर्देश भी दिए। उन्होंने कहा प्रशिक्षित मालियों की सूची उद्यानिकी विभाग से प्राप्त की जा सकती है।आयुर्वेदिक महाविद्यालय एवं चिकित्सालय परिसर की बुनियादी सुविधाओं से संबंधित कार्यों की भी बैठक में समीक्षा की गई। कलेक्टर श्रीमती चौहान ने लोक निर्माण, परियोजना क्रियान्वयन इकाई, नगर निगम की पीएचई शाखा सहित अन्य संबंधित अधिकारियों को आयुर्वेदक महाविद्यालय के कार्यों को गुणवत्ता के साथ व समय – सीमा में पूर्ण करने के निर्देश दिए। बैठक में महाविद्यालय के प्राचार्य महेश कुमार शर्मा सहित अन्य संबंधित अधिकारी एवं कार्यकारिणी समिति के सदस्यगण मौजूद थे। 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Featured Post

25 जुलाई 2024, गुरूवार का पंचांग

*सूर्योदय :-* 05:39 बजे   *सूर्यास्त :-* 19:16 बजे  *विक्रम संवत-2081* शाके-1946  *वी.नि.संवत- 2550*  *सूर्य -* सूर्यदक्षिणायन, उत्तर  गोल  ...