जन्म नक्षत्र या जन्म राशी या ग्रह को बलवान कर सकते है एक पेड़ लगाकर

वर्षा का सीजन है पेड़ पौधों को आसानी से लगाया जा सकता है बढ़ते प्रदूषण को कंट्रोल करने घुटती मानवता को बचाने आवश्यक है। ऐसे में आप अपने जन्म नक्षत्र के अनुसार अगर नक्षत्र मालूम नहीं है तो अपनी राशि अनुसार,बोलते नाम की राशि अनुसार और अगर वर्तमान में कोई ग्रह की महादशा अंतर्दशा खराब है या जन्म कुंडली में ग्रह खराब बैठा है तो उसके अनुसार पेड़, पौधों को लगाए। 


 वरिष्ठ ज्योतिषाचार्य डॉ हुकुमचन्द जैन ने ज्योतिष नक्षत्र,राशि के अनुसार पेड़, पैधे लगाने की बात करते हुए कहा कि 

*नक्षत्र के अनुसार किस नक्षत्र में जन्म से  कोनसा पेड़ लगाए* - 

1 आश्वनी नक्षत्र के लिए कोचिल।

 2- भरणी नक्षत्र के लिए आंवला 

3-   कृतिका नक्षत्र के लिए गुलहड़ 

4 रोहिणी नक्षत्र के लिए जामुन 

5- मृगशिरा नक्षत्र के लिए खेर 

6 - आद्रा नक्षत्र के लिए  शीशम 

7 पुनर्वसु नक्षत्र  के लिए बांस 

8 - पुष्य नक्षत्र के लिए पीपल

9 - आश्लेषा नक्षत्र के लिए नागकेशर 

10 मघा नक्षत्र के लिए बट

11 पूर्वा फाल्गुनीनक्षत्र के लिए पलाश

12 उत्तरा फाल्गुनी  नक्षत्र के लिए पाकड़

 13  हस्त नक्षत्र के लिए रीठा

14 - चित्रा नक्षत्र के लिए बेल

15 स्वाति नक्षत्र के लिए अर्जुन

16 विशाखा नक्षत्र के लिए कटैया

17 अनुराधा नक्षत्र के लिए भालसरी 

18 ज्येष्ठा नक्षत्र के लिए चीर

19 मूल नक्षत्र के लिए शाल 

20 पूर्वाषाढ़ नक्षत्र के लिए अशोक

21 उत्तराषाढ़ नक्षत्र के लिए कटहल

22 श्रवण नक्षत्र के लिए    अकौन 

23 धनिष्ठा नक्षत्र के लिए शमी

24 शतभिषा नक्षत्र के लिए कदम्य  

25 पूर्वा भाद्रपद नक्षत्र के लिए आम

26 उत्तरा भाद्रपद नक्षत्र पाकड़

27 रेवती नक्षत्र  के लिए महुआ


*जिन्हें अपना जन्म नक्षत्र मालूम नहीं हो उन्हें अपने जन्म की या बोलने की राशि से पेड़ चुने।*

1 मेष - आंवला, कुचला, गूगल

2- वृष - जामुन,खेर ,गूगल

3- मिथुन- खैर,शीशम,बांस

4- कर्क- पीपल,बांस,नागकेशर

5- सिंह- बरगद,पलाश

6- कन्या- बेल,जूही

7- तुला- अर्जुन,नागकेशर

8-बृश्चिक- नागकेशर,साल

9- धनु- साल, कटहल

10-मकर- शमी,कटहल

11- कुंभ- शमी,कदम्ब, आम

12- मीन- नीम,आम,महुआ

*अगर महादशा अंतर्दशा किसी ग्रह की या गोचर में ग्रह खराब हो तब कोनसा पेड़ लगाए*  

सूर्य ग्रह शान्ति के लिए मदार

चन्द्र ग्रह के लिए पलाश,खिरनी

मंगल ग्रह के लिए खैर,ढांक, नीम

बुध ग्रह के लिए अपामार्ग, 

गुरु ग्रह के लिए पीपल

शुक्र ग्रह के लिए कपास

शनि ग्रह के लिए शमी, कीकर,खजूर

राहु ग्रह के लिए चंदन,दूर्वा,नारियल

केतु ग्रह के लिए तिल, इमली,कुशा 

लगाना चाहिए।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Featured Post

25 जुलाई 2024, गुरूवार का पंचांग

*सूर्योदय :-* 05:39 बजे   *सूर्यास्त :-* 19:16 बजे  *विक्रम संवत-2081* शाके-1946  *वी.नि.संवत- 2550*  *सूर्य -* सूर्यदक्षिणायन, उत्तर  गोल  ...